Sushant Singh Rajput Case में सुनवाई के बाद वकील ने उठाए हैं ये बड़े सवाल ? - Watch Video

Publish Date: 06 Aug, 2020
 
Sushant Singh Rajput अब इस दुनिया में नहीं है लेकिन उन्हें इंसाफ दिलाने के लिए Social Media पर Campaign चल रहा है। मुम्बई पुलिस इस मामले में करीब 40-50 लोगों से पूछताछ कर चुकी है। जिसमे नामी फ़िल्म निर्माता निर्देशक और एक्टर्स शामिल है। Sushant Singh Rajput Case की मौत के मामले में मुंबई और बिहार पुलिस अपने स्तर पर जांच कर रही है। बिहार के CM Nitish Kumar ने Sushant Singh Rajput की मौत की CBI जांच करवाने की सिफारिश की है। जिसके बाद बिहार सरकार की सीबीआई जांच (CBI Investigation) की सिफारिश पर केंद्र सरकार (Central Government)ने मोहर लगा दी है। वहीं वकील विकास सिंह ने कहा है कि सुप्रीम कोर्ट में रिया चक्रवर्ती के वकील ने कहा कि पटना में कुछ नहीं हुआ है, इसलिए केस वहां दर्ज नहीं होना चाहिए था। हमने बताया कि क्रिमिनल लॉ में यह कानून नहीं है, बल्कि ये है कि जहां विक्टिम हो, वहां केस दर्ज होता है. विकास सिंह ने एक साल में बैंक अकाउंट से 15 करोड़ रुपये निकलने को लेकर भी सवाल उठाए। बता दें कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बताया कि सुशांत सिंह के पिता ने सीबीआई जांच की अपील की है। इसके बाद राज्य सरकार ने यह निर्णय लिया है। इसके पहले CM Nitish Kumar ने शनिवार को कहा था कि अगर परिवार के लोग बिहार सरकार को इस मामले की जांच की अनुशंसा CBI को देते हैं तो इसमें कोई हर्ज नहीं। वो परिवार वालों के इस मामले पर स्टैंड का इंतजार कर रहे हैं। आपको बता दें कि 14 जून को Sushant की मौत मुंबई में हुई थी। Sushant Singh Rajput के निधन से उनका परिवार सदमे में है। Sushant के निधन के बाद से मुंबई पुलिस इस केस की जांच-पड़ताल में लगी थी। वहीं Sushant के पिता ने केके सिंह ने अपनी एफआईआर में Rhea Chakraborty और उनके परिवार पर Sushant Singh Rajput को मानसिक रूप से बीमार करने सहित उनके रुपये हड़पने तक के आरोप लगाए हैं। कहा जाता है कि वह कथित तौर पर डिप्रेशन में थे। इस खबर के बारे में और अधिक जानने के लिए देखिए हमारा ये Video..
 

Related videos

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept