Sushant Singh Rajput Case: Subramanian Swamy ने ग‍िनाएं 26 Points, कहा- इसलिए लगता है Sushant Singh Rajput की हत्‍या हुई – Watch Video

Publish Date: 30 Jul, 2020
 
Sushant Singh Rajput अब इस दुनिया में नहीं है लेकिन उन्हें इंसाफ दिलाने के लिए Social Media पर Campaign चल रहा है। लेकिन इसके बाद भी मुंबई पुलिस के हाथ खाली हैं। मुम्बई पुलिस इस मामले में कई 39 लोगों से पूछताछ कर चुकी है। जिसमे नामी फ़िल्म निर्माता निर्देशक और एक्टर्स शामिल है। Sushant के पिता के.के सिंह ने ही Bollywood Actress और कथित तौर पर Sushant Singh Rajput’s Girlfriend Rhea Chakraborty के खिलाफ FIR कराई है। इसी बीच Sushant Singh Case में BJP नेता Subramanyam Swami ने अपने ट्विटर अकाउंट पर एक ट्वीट करके खलबली मचा दी है। Subramanyam Swami ने अपने ट्विटर अकाउंट से 26 प्वाइंट शेयर करके बताया है कि उन्हें इन कारणों की वजह से लगता है कि Sushant ने आत्महत्या नहीं की है बल्कि उनका मर्डर हुआ है। Subramanyam Swami के अनुसार, कि Sushant के गले पर निशान का लोकेशन, इसमें कहा गया है कि Sushant के गले पर मिले निशान आत्महत्या की तरफ इशारा नहीं करते। Sushant के अपार्टमेंट में एंटी-डिप्रेसेंट मिलना और 'सोशल मीडिया पर गैर-अस्तित्व'- ही सुसाइड थ्योरी को सपोर्ट करते हैं। इन बिंदुओं में गर्दन पर मार्क, आंखों को नहीं निकलना, मुंह से झाग नहीं निकलना और 14 जून की सुबह सुशांत सिंह राजपूत का वीडियो गेम खेलना शामिल हैं। आपको बता दें कि वहीं Sushant के पिता के.के सिंह के वकील विकास सिंह ने मुंबई पुलिस पर आरोप लगाए हैं। उन्होंने कहा कि Sushant के पिता ने करीब 4 महीने पहले बांद्रा पुलिस के डीसीपी से Rhea की शिकायत की थी, लेकिन उसके खिलाफ FIR दर्ज नहीं की गई, इसलिए यह केस पटना में दर्ज कराया गया। उन्होंने आगे कहा कि Rhea, Sushant को परेशान करती थी। वह Sushant के माइंड पर कंट्रोल कर रही थी। वह उन्हें परिवार से बात नहीं करने देती थी। उसने पूरे परिवार को Sushant से अलग कर दिया था। इस घटना के पीछे Rhea की लंबी प्लानिंग थी। वह सारी मेडिकल फाइल लेकर चली गई थी। जब Sushant अकेलापन महसूस कर रहे थे, तब Rhea ने उनका फोन ब्लॉक कर दिया था। आपको बता दें कि एफआईआर में Rhea के परिवार के सदस्यों के अलावा अन्य छह लोगों के नाम भी हैं।
 

Related videos

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept