George Floyd की मौत पर Protest क्यों? Donald Trump को बंकर में क्यों छिपना पड़ा- Watch Video

Publish Date: 03 Jun, 2020
 
मिनेसोटा में 46 साल के जॉर्ज फ्लॉयड की मौत के बाद पूरे अमेरिका में प्रदर्शनों की लहर उठ गई है। देशभर में लोग रंगभेद और नस्लवाद को लेकर सड़कों पर उतर आए हैं। 25 मई से अमेरिका के मिनियापोलिस में विरोध प्रदर्शन की शुरुआत हुई। बता दें कि पुलिस अधिकारी ने जॉर्ज को गिरफ्तार करने के बाद उन्हें ज़मीन पर लिटा दिया और उनकी गर्दन पर अपने घुटने को रखकर उसे दबाया। इस घटना के 30 मिनट बाद ही फ्लॉयड की मौत हो गई। जॉर्ज फ्लॉयड की गर्दन पर घुटना रखने वाले पुलिस अफसर को 27 मई को गिरफ्तार कर लिया गया। उस पर थर्ड डिग्री हत्या का आरोप लगाया गया है। इस मामले में सुनवाई करते हुए कोर्ट ने सोमवार को उसे 8 जून को अदालत में पेश होने के लिए कहा है। इसी सब को लेकर शुक्रवार रात व्हाइट हाउस के बाहर भी जमकर प्रदर्शन किया गया था। उस हिंसक प्रदर्शन की गंभीरता इस बात से समझी जा सकती है कि उस दौरान राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को कुछ समय के लिए एक भूमिगत बंकर में ले जाया गया था। वहीं, वाशिंगटन में रात को कर्फ्यू का ऐलान करना पड़ा। राजधानी में पुलिस की सहायता के लिए मेयर ने नेशनल गार्ड्स के तैनाती की मंजूरी दे दी है। बता दें कि इसी बीच ट्रंप ने Antifa नाम के संगठन पर इंसाफ के नाम पर दंगे भड़काने और लूट का आरोप लगाते हुए उसे बैन करने की बात की है। जानिए, क्या है Antifa, जिसकी वजह से खुद अमेरिकी प्रेसिडेंट को छिपने पर मजबूर होना पड़ा। आपको बता दें कि अमेरिका में फासीवाद के विरोधी लोगों को Antifa (anti-fascists) कहते हैं। अमेरिका में Antifa आंदोलन उग्रवादी, वामपंथी और फासीवादी विरोधी आंदोलन के लिए इस्तेमाल किया जाता है। अमेरिका में ये ग्रुप शुरुआत में अपने मकसद की वजह से एंटी-रेसिस्ट एक्शन ग्रुप कहलाता था। ये लोग नव-नाजी, फासीवाद और रंगभेद के खिलाफ खड़े रहने का दावा करते हैं।
 

Related videos

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept