JNU Student के Protest की असली वजह, 4 अहम मांगे, अब आगे क्या ? JNU Fee hike | Aishe Ghosh

Publish Date: 19 Nov, 2019
 
JNU Student Protest: JNU छात्र संघ (JNUSU)ने मंगलवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस की। छात्रों ने ऐलान किया कि जब तक सरकार बढ़ाई गई हॉस्टल फीस (Fee hike in JNU) पूरी तरह से वापस नहीं होती है, तब तक उनका आंदोलन (JNU protest Live) जारी रहेगा। JNUSU की अध्यक्ष आइशी घोष (Aishe Ghosh) ने ऐलान किया कि अगर बार-बार संसद घेरने की जरूरत हुई तो वो भी करेंगे। दरअसल, जेएनयू के छात्र हॉस्टल की बढ़ी हुई फीस और ड्रेस कोड के खिलाफ पिछले 23 दिनों से प्रदर्शन कर रहे हैं। छात्रों का कहना है कि यूनिवर्सिटी के वीसी (JNU) उनसे आकर एक बार भी नहीं मिले हैं। जेएनयू के छात्रों और अध्यनक्ष आइषी घोष ने कहा कि जिस तरह सरकारी यूनिवर्सिटी में पढ़ाई महंगी हो रही है। वह इसके खिलाफ हैं। छात्रों ने कहा कि जो फीस ढाई हजार होती थी, वह फीस अब साढ़े सात हजार होने जा रही है। इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में वाइस चांसलर को हटाने की मांग की गई, छात्रों ने कहा कि अगर सरकार को लगता है कि वह लाठी डंडो से मारकर उन्हें हटा देंगें तो ऐसा होने वाला नहीं हैं। जेएनयूएसयू की अध्यक्ष आइसी ने इस दौरान बताया 18 नवम्बर को जब प्रदर्शन किया तो उनके साथ क्या हुआ।
 

Related videos

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept