World arthritis day: गठिया से हैं ग्रसित तो भूलकर भी न करें इन चीज़ो का सेवन- Watch Video

Publish Date: 13 Oct, 2020
 

World arthritis day: अगर कोई ऑस्टियोआर्थराइटिस का मरीज है, तो जोड़ों के भीतर उपास्थि उत्तरोत्तर क्षतिग्रस्त हो रही है और श्लेष तरल पदार्थ आमतौर पर कम हो जाता है। दर्द और जोड़ों की अकड़न जो महसूस की जाती है, हड्डियों का एक-दूसरे के साथ कार्टिलेज और सिनोवियल फ्लूइड के संपर्क में आने का एक परिणाम है। आपके जोड़, आपके पोर-पोर सहित, श्लेष झिल्ली से घिरे होते हैं, जो आपकी हड्डियों के सिरों के आसपास एक कैप्सूल बनाता है। इस झिल्ली के अंदर श्लेष द्रव होता है, जो एक स्नेहक और सदमे अवशोषक के रूप में कार्य करता है, इसलिए जब आप चलते हैं तो आपकी हड्डियां एक साथ पीसती नहीं हैं। आज हम इस वीडियो में आपको बताएंगे कि आपको एसी कौन सी चीजें हैं जो नहीं खानी चाहिए। गठिया के मरीजों को बहुत ज्यादा ठंडी चीजों को बिल्कुल नहीं खाना चाहिए। ये चीजें फ्रिज में रखा हुआ दही, खट्टी और ठंठी छाछ हैं। इसके अलावा आइसक्रीम खाने से भी बचना चाहिए। इन चीजों को खाने से अगर आप परहेज नहीं करेंगे तो आपके जोड़ों में भयंकर दर्द हो सकता है।  जिन लोगों को आर्थराइटिस की समस्या हो उन्हें बहुत अधिक शुगर का उपयोग नहीं करना चाहिए। फिर चाहे शुगर लिक्विड फॉर्म में हो या किसी स्वीट डिश यानी मिठाई के रूप में। शुगर से भरपूर चीजें खाने से शरीर में सूजन की समस्या बढ़ सकती है, जो आर्थराइटिस के दर्द को बढ़ाने का काम करेगी। इसलिए चॉकलेट्स, कैंडी, सॉफ्ट ड्रिंक्स और सोडा जैसी चीजों से दूर रहना चाहिए। खाने में तो नमक खाया ही जाता है। लेकिन इसमें भी आप काला नमक या पिंक सॉल्ट का उपयोग करेंगे तो आपको अधिक लाभ होगा। बेहतर होगा कि आप फास्ट फूड से एकदम दूरी बना लें। क्योंकि फास्ट फूड्स में आमतौर पर नमक की मात्रा बहुत अधिक होती है। जो ना केवल आर्थराइटिस की समस्या को बढ़ाती है बल्कि हमारे रुटीन हेल्थ को भी नुकसान पहुंचाती है। जैसे, बीपी हाई होना, यूरिन अधिक आना।


 

 

Related videos

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept