Zojila Tunnel : लेह और श्रीनगर के बीच Zojila Tunnel का काम शुरू, जानिए Tunnel की खास बातें – Watch Video

Publish Date: 16 Oct, 2020
 

Zojila Tunnel:  परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने गुरुवार को जम्मू-कश्मीर के गांदरबल जिले में एनएच -1 पर जोजिला टनल परियोजना के लिए वीडियो कॉन्फ्रेंसिग के जरिए पहला Blast कर काम की शुरुआत की। जोजिला टनल श्रीनगर, द्रास, कारगिल और लेह क्षेत्रों के बीच सभी की कनेक्टिविटी प्रदान करेगा। जोजिला सुरंग को एशिया की सबसे लंबी सुरंग करार देते हुए गडकरी ने कहा, सुरंग का इस्तेमाल निश्चित रूप से लद्दाख, लेह और कश्मीर की अर्थव्यवस्था को बदलने में किया जाएगा। हमारे विभाग के सभी लोगों के प्रयासों से, हमने इसमें 4,000 करोड़ रुपये भी बचाए हैं। यह सुरंग जब पूरी हो जाएगी तो आधुनिक भारत के इतिहास में एक ऐतिहासिक उपलब्धि होगी। एक सरकारी प्रेस विज्ञप्ति में कहा गया है कि लद्दाख, गिलगित और बाल्टिस्तान क्षेत्रों में हमारी सीमाओं के साथ बड़े पैमाने पर सैन्य गतिविधियां हो रही हैं, इस तथ्य के मद्देनजर यह देश की रक्षा के लिए भी बहुत महत्वपूर्ण होगा। इस सुरंग के बनने से श्रीनगर घाटी और लेह के बीच बारहमासी संपर्क सुविधा मिल सकेगी। यह परियोजना रणनीतिक महत्व रखती है क्योंकि ज़ोजिला दर्रा 11,578 फीट की ऊँचाई पर स्थित है। सर्दियों के दौरान, भारी बर्फबारी के कारण यह बंद रहता है, जिससे कश्मीर से लद्दाख क्षेत्र कट जाता है। जोजिला टनल की लंबाई 14.15 किमी, एप्रोच रोड की लंबाई 18.63 किमी और कुल प्रोजेक्ट की लंबाई 32.78 किमी है। जम्मू और कश्मीर और लद्दाख के सर्वांगीण आर्थिक विकास और सामाजिक-सांस्कृतिक एकीकरण लाने के लिए 2004-05 में जोजिला सुरंग परियोजना की कल्पना की गई थी। इसे इंजीनियरिंग, प्रोक्योरमेंट और कंस्ट्रक्शन  मॉडल पर लागू करने के लिए जुलाई 2016 में नेशनल हाईवे एंड इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट कॉरपोरेशन लिमिटेड  को दिया गया था। कार्य को मैसर्स आईटीएनएल को 4,899.42 करोड़ रुपये में तथा आर्थिक मामलों की मंत्रिमंडलीय समिति (CCEA) से अनुमोदन प्राप्त हुआ, जिसे सात वर्षों के भीतर पूरा करने के लिए 6,808.69 करोड़ रुपये की कुल परियोजना लागत प्राप्त हुई। इस खबर के बारे में और अधिक जानने के लिए देखिए ये Video…

 
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept